Cricket

केन विलियमसन ने छोड़ी न्यूजीलैंड टीम की कप्तानी, जानें…

केन विलियमसन ने गुरुवार को न्यूजीलैंड टीम की टेस्ट कप्तानी छोड़ दी है। 32 वर्षीय केन विलियमसन ने कीवी टीम के लिए छह साल से अधिक समय तक टेस्ट कप्तानी संभाली है। आपको बता दें कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के पहले सीजन में उन्होंने न सिर्फ अपनी टीम को फाइनल तक पहुंचाया बल्कि खिताब भी अपने नाम किया.

हालांकि, केन विलियमसन वनडे और टी20 फॉर्मेट में न्यूजीलैंड टीम के लिए अपनी कप्तानी जारी रखेंगे। आपको बता दें कि केन विलियमसन की कप्तानी में न्यूजीलैंड की टीम ने 40 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें से उसने 22 मैचों में जीत प्रतिशत 55 के साथ जीता है। टीम को 10 मैचों में हार मिली थी और 8 मैच ड्रॉ रहे थे। .

क्रिकेट के इस लंबे प्रारूप के लिए न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने अनुभवी तेज गेंदबाज टिम साउदी को कप्तान बनाने की घोषणा की है।

केन विलियमसन ने क्या कहा?

32 वर्षीय विलियमसन, जिन्होंने 2016 से न्यूजीलैंड टीम का नेतृत्व किया है, ने कहा, “टेस्ट क्रिकेट में ब्लैक कैप्स की कप्तानी करना एक अविश्वसनीय सम्मान रहा है। कप्तानी के साथ मैदान पर और बाहर आपके काम का बोझ आ जाता है और मेरे करियर के इस पड़ाव पर, मुझे लगता है कि इस फैसले के लिए यह सही समय है।

विलियमसन ने आगे कहा कि वह सफेद गेंद के प्रारूप यानी वनडे और टी20 टीम के कप्तान बने रहेंगे, क्योंकि अगले दो साल में दो विश्व कप होने हैं। इसके साथ ही वह तीनों प्रारूपों में भी खेलना जारी रखेंगे। आपको बता दें कि, उनके 24 टेस्ट शतकों में से ग्यारह कप्तान के रूप में आए हैं। उनके 11 शतक न्यूजीलैंड के एक कप्तान के लिए भी एक रिकॉर्ड है।

विलियमसन जीत प्रतिशत के मामले में न्यूजीलैंड के सबसे सफल कप्तान रहे हैं क्योंकि उनके नेतृत्व में जीत प्रतिशत 55 था।

टिम साउदी के पास बड़ा मौका है

सऊदी 26 दिसंबर से कराची में पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले अहम टेस्ट मैच में टीम की अगुआई करेगा। देखिए पाकिस्तान दौरे के लिए न्यूजीलैंड की टीम

पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए न्यूजीलैंड की टीम

टिम साउदी (c), माइकल ब्रेसवेल, टॉम ब्लंडेल, डेवोन कॉनवे, मैट हेनरी, टॉम लैथम, डेरिल मिशेल, हेनरी निकोल्स
एजाज पटेल, ग्लेन फिलिप्स, ईश सोढ़ी, ब्लेयर टिकनर, नील वैगनर, केन विलियमसन, विल यंग

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button